सुरेश गोपी ने संभाली मंत्री की जिम्मेदारी, कहा- उन संभावनाओं पर करूंगा गौर, जिसकी PM को तलाश है

    उन्होंने कहा कि यह एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी है. इसलिए, मुझे उन संभावनाओं पर गौर करना होगा, जिनका प्रधानमंत्री इंतजार कर रहे हैं.

    सुरेश गोपी ने संभाली मंत्री की जिम्मेदारी, कहा- उन संभावनाओं पर करूंगा गौर, जिसकी PM को तलाश है
    केरल के त्रिशूर से चुने गए बीजेपी नेता सुरेश गोपी, मंत्री पदभार संभालते हुए | Photo- ANI

    नई दिल्ली : मलयालम अभिनेता से राजनेता बने सुरेश गोपी ने मंगलवार सुबह पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस के साथ-साथ पर्यटन मंत्रालय में राज्य मंत्री का पदभार ग्रहण किया.

    केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने गोपी का स्वागत किया और उन्हें गुलदस्ता भेंट किया. बाद में, पर्यटन मंत्रालय के कार्यालय में भी उनका स्वागत गुलदस्ता भेंट करके किया गया.

    यह भी पढे़ं : 'अनावश्यक चर्चा से बचा जाए', मणिपुर शांति की राह देख रहा' RSS प्रमुख मोहन भागवत का बड़ा संदेश

    केरल में भाजपा के पहले सांसद बने हैं गोपी

    गोपी, जो केरल से भारतीय जनता पार्टी के पहले लोकसभा सांसद बने हैं, ने इसे एक बड़ी जिम्मेदारी बताते हुए अपने त्रिशूर निर्वाचन क्षेत्र के लोगों को उन्हें यह अवसर देने के लिए धन्यवाद दिया.

    "यह एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी है. इसलिए, मुझे उन संभावनाओं पर गौर करना होगा, जिनका प्रधानमंत्री इंतजार कर रहे हैं... भारत में उभरती पेट्रोलियम प्रणालियों के अगले स्तर की सभी सामग्री को देखने के बाद, शायद मैं अपना योगदान दे पाऊं. आइए अपने विचार खुले रखें. केरल, त्रिशूर के लोगों का धन्यवाद. आपने मुझे यह अवसर दिया," गोपी ने राज्य मंत्री के रूप में कार्यभार संभालने के बाद कहा.

    एक दिन पहले 71 लोगों ने ली मंत्री पद की शपथ

    रविवार शाम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंत्रिपरिषद में शपथ लेने वाले 71 सदस्यों में शामिल गोपी को एक दिन बाद पेट्रोलियम और पर्यटन विभाग आवंटित किए गए.

    सोमवार को गोपी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर कहा, "कुछ मीडिया प्लेटफॉर्म गलत खबर फैला रहे हैं कि मैं मोदी सरकार के मंत्रिपरिषद से इस्तीफा देने जा रहा हूँ. यह पूरी तरह से गलत है. मोदी सरकार के मंत्रिपरिषद में होना और केरल के लोगों का प्रतिनिधित्व करना मेरे लिए गर्व की बात है."

    2024 के लोकसभा चुनावों में गोपी ने त्रिशूर से वकील और सीपीएम उम्मीदवार वीएस सुनीलकुमार को 74,686 वोटों से हराया. 4 जून को, जिस दिन चुनाव के नतीजे उनकी जीत के संकेत दे रहे थे, उन्होंने एएनआई से कहा कि वे बहुत खुश हैं. "मैं पूरी तरह से खुश हूं. जो असंभव था, वह शानदार तरीके से संभव हो गया... यह 62 दिनों की प्रचार प्रक्रिया नहीं थी, यह पिछले 7 सालों की भावनात्मक यात्रा थी... मैं पूरे केरल के लिए काम करता हूं. मेरी पहली पसंद एम्स बनवाना होगी..."

    सुरेश गोपी के अलावा, वरिष्ठ भाजपा नेता जॉर्ज कुरियन को भी रविवार को राज्य मंत्री के रूप में मंत्रिपरिषद में शामिल किया गया और उन्हें अल्पसंख्यक मामले, मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी विभाग आवंटित किए गए.

     यह भी पढ़े: तीसरे कार्यकाल में PM मोदी की पहली विदेश यात्रा, इटली में G7 सम्मेलन में होंगे शामिल