MP में लोकसभा चुनाव 2024 के चौथे चरण में 3 बजे तक रिकॉर्ड 59.63% वोटिंग, खरगोन जिला सबसे आगे

    Voting percentage in Madhya Pradesh : राज्य की 8 सीटों- देवास, उज्जैन, मंदसौर, रतलाम, धार, इंदौर, खरगोन और खंडवा में मतदान हो रहा. यहां यह आखिरी चरण होगा.

    MP में लोकसभा चुनाव 2024 के चौथे चरण में 3 बजे तक रिकॉर्ड 59.63% वोटिंग, खरगोन जिला सबसे आगे
    एक पोलिंग बूथ पर लाइन में लगे मतदाता | Photo- ANI

    Voting percentage in Madhya Pradesh

    भोपाल (मध्य प्रदेश) : चुनाव आयोग द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, राज्य की आठ संसदीय सीटों के लिए चौथे चरण के मतदान में दोपहर 3 बजे तक 59.63 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया है.

    मध्य प्रदेश की आठ संसदीय सीटों - देवास, उज्जैन, मंदसौर, रतलाम, धार, इंदौर, खरगोन और खंडवा - पर मतदान सुबह 7 बजे से जारी है और यह शाम 6 बजे तक होगा.

    आठ विधानसभा क्षेत्रों में खरगोन दोपहर 3 बजे तक 63.84 प्रतिशत मतदान के साथ सबसे आगे है. इसके बाद देवास (63.08 प्रतिशत), रतलाम (62.78 प्रतिशत), मंदसौर (61.58 प्रतिशत), उज्जैन (60.83 प्रतिशत), धार (60.18 प्रतिशत), खंडवा (59.87 प्रतिशत) और इंदौर में (48.04) हैं. प्रतिशत) मतदान हुआ है.

    इससे पहले, राज्य में लोकसभा चुनाव 2024 के चौथे और आखिरी चरण में दोपहर 1 बजे तक 48.52 प्रतिशत, सुबह 11 बजे तक 32.38 प्रतिशत और सुबह 9 बजे तक 14.97 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था.

    यह भी पढे़ं : रायबरेली प्रचार करने पहुंचे राहुल गांधी, प्रियंका ने कहा- भैया को बचपन से ही अन्याय बर्दाश्त नहीं

    7 मई को, तीसरे चरण में 3 बजे तक हुआ था 54.09 फीसदी मतदान

    7 मई को तीसरे चरण के मतदान के दौरान, राज्य में दोपहर 3 बजे तक 54.09 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया और अंतिम मतदान प्रतिशत 66.75 प्रतिशत रहा.

    प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) अनुपम राजन ने कहा कि मॉक पोल के बाद राज्य में चौथे चरण का मतदान निर्धारित समय पर शुरू हो गया और राज्य में मतदान शांतिपूर्ण चल रहा है.

    मॉक पोल के दौरान बदले गए थे कुछ वीवीपैट 

    राजन ने कहा, "आज, राज्य में लोकसभा चुनाव 2024 के चौथे और अंतिम चरण में आठ संसदीय क्षेत्रों के 18,007 मतदान केंद्रों पर मतदान हो रहा है. निर्धारित प्रक्रिया के अनुसार मतदान केंद्रों पर सोमवार की सुबह, मतदान एजेंटों की उपस्थिति में मॉक पोल किया गया था. मॉक पोल के दौरान कुछ बैलेटिंग यूनिट (बीयू), कंट्रोल यूनिट (सीयू) और वीवीपीएटी (वोटर वेरिफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल) में दिक्कत आई और उन्हें बदल दिया गया.

    अधिकारी ने कहा कि कुल 47 बीयू, 48 सीयू और 90 वीवीपैट बदले गए, सुबह 7 बजे से मतदान शुरू होने के बाद, कुल 13 बीयू, 13 सीयू, 35 वीवीपैट बदले गए, जिनमें समस्याएं बताई गईं.

    राजन ने कहा, "राज्य में सुबह 11 बजे तक पहले 4 घंटों में 32.38 प्रतिशत मतदान हुआ. पिछले 2019 के आम चुनावों के दौरान, चौथे चरण में सुबह 11 बजे तक मतदान प्रतिशत 29.48 फीसदी था."

    मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव चार चरणों में हो रह है. पहले चरण का मतदान 19 अप्रैल को हुआ था, दूसरे चरण का मतदान 26 अप्रैल को हुआ था और तीसरे चरण का मतदान 7 मई को संपन्न हुआ था.

    वोटों की गिनती 4 जून को होगी.

    29 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों के साथ, मध्य प्रदेश निचले सदन में प्रतिनिधित्व के मामले में सभी राज्यों में छठे स्थान पर है. इनमें से 10 सीटें एससी और एसटी उम्मीदवारों के लिए आरक्षित हैं, जबकि बाकी 19 सीटें अनारक्षित हैं.

    यह भी पढे़ं : प्रियंका गांधी ने कहा- लोकसभा चुनाव के 3 चरणों की तरह आज चौथा चरण भी INDIA गठबंधन के पक्ष में रहेगा