शिव मंदिर में नमाज पढ़ रही थीं मां-बेटी, पकड़ी गईं तो किया सनसनीखेज खुलासा; पढ़िये- क्या है मौलवी का कनेक्शन

    बरेली के एक गांव का वीडियो भी तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें केसरपुरा गांव में स्थित प्राचीन शिव मंदिर में मां-बेटी मंदिर नमाज पढ़ रहे हैं.

    शिव मंदिर में नमाज पढ़ रही थीं मां-बेटी, पकड़ी गईं तो किया सनसनीखेज खुलासा; पढ़िये- क्या है मौलवी का कनेक्शन

    उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. जिले के एक गांव में एक हिंदू मंदिर में नमाज बढ़ने के आरोप में मां-बेटी के अलावा एक मौलवी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

    इस बाबत एक वीडियो भी तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें केसरपुरा गांव में स्थित प्राचीन शिव मंदिर में मां-बेटी मंदिर नमाज पढ़ रहे हैं. मौलवी पर आरोप लगा है कि उसके कहने पर ही मां और बेटी मंदिर में नमाज पढ़ रहे थे.  वीडियो वायरल होने के बाद गांव ही नहीं, बल्कि आसपास के इलाकों में भी हड़कंप मच गया.

    इसके बाद हरकत में आए प्रधान पति प्रेम सिंह ने थाने में मां-बेटी और मौलवी के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई. इसके बाद तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया। बताया जा रहा है कि मौलवी के कहने पर ही मां-बेटी ने  केसरपुरा गांव में स्थित प्राचीन शिव मंदिर में नमाज पढ़ी. इसके बाद से यह वीडियो बड़ी तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

    आरोपी मां का नाम नाजीर और बेटी का सबीना है. इसके अलावा अन्य आरोपी मौलवी है, जिसका नाम चमन शाह बताया जा रहा है.

    क्यों मंदिर में पढ़ी नमाज, नहीं चला पता

    उधर, बताया जा रहा है कि इस बात का पता नहीं चला है कि मौलवी चमन शाह ने आखिर किस मकसद के तहत मां नाजीर और बेटी सबीना से मंदिर में नमाज पढ़वाई. वहीं, नमाज पढ़ने की खबर लगते ही ग्रामीण प्रदर्शन पर उतर आए. ग्रामीण ने इकट्ठे होकर विरोध किया तो पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी मां नाजीर और बेटी सबीना को धर दबोचा.

    उधर, सख्ती से पूछताछ करने पर दोनों ने बताया कि उन्हें मंदिर नमाज पढ़ने के लिए मौलवी चमन शाह ने कहा था. उधर, स्थानीय पुलिस का कहना है कि शिकायत मिलने पर मां-बेटी और मौलवी पर विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है. तीनों पर धार्मिक भावनाओं को भड़काने का भी आरोप है। इसके तहत अलग-अलग धाराओं में केस दर्ज किया गया है.