Part Time Job Scam में फंसकर पिता की प्रॉपर्टी पर भी ले लिया कर्ज, न मिली नौकरी और गंवा दिए 70 लाख

    गुड़गांव के सेक्टर 43 निवासी पीड़िता के मोबाइल पर एक मैसेज आया, जिसमें उसे पार्ट टाइम नौकरी की पेशकश की गई थी. इस काम में होटलों की रेटिंग और वीडियो को लाइक करने जैसे छोटे-छोटे काम शामिल थे.

    Part Time Job Scam में फंसकर पिता की प्रॉपर्टी पर भी ले लिया कर्ज, न मिली नौकरी और गंवा दिए 70 लाख

    Part Time Job scam: पिछले कुछ महीनों में ऑनलाइन फ्रॉड के एक से बढ़कर एक चौंकाने वाले मामले सामने आ रहे हैं.  देश में न जाने कितने लोग हर दिन ठगे जाते है. पुलिस और मीडिया ऐसे लोगों के बारे में बार-बार बताते रहते हैं.  लकिन फिर भी साइबर ठग लोगों को अपने चंगुल में फंसा लेते हैं.  

    इन जालसाजों के जाल में फंसकर लोगों के लाखों रुपए डूब चुके हैं. जालसाज व्हाट्सएप और टेलीग्राम जैसे सोशल मैसेजिंग एप के जरिए मासूम लोगों को निशाना बनाते हैं. आज हम आपको एक ऐसा मामला बताने जा रहे हैं, जिसे जानने के बाद आप हैरान रह जाएंगे. साइबर ठगों ने एक व्यक्ति को चंगुल में फंसाकर ऐसा लूटा कि आज उसकी प्रॉपटी बिकनी की कगार पर है. वह शख्स फिलहाल सरकार और पुलिस से न्याय की गुहार लगा रहा है.

    पार्ट टाइम नौकरी का झांसा देकर युवक को लूटा

    जानकारी के मुताबिक, गुड़गांव के सेक्टर 43 निवासी पीड़िता के मोबाइल पर एक मैसेज आया, जिसमें उसे पार्ट टाइम नौकरी की पेशकश की गई थी. इस काम में होटलों की रेटिंग और वीडियो को लाइक करने जैसे छोटे-छोटे काम शामिल थे. इसके बदले में जालसाजों ने उसे मोटा कमीशन देने का वादा किया. हालांकि कमीशन का पता नहीं है, पीड़ित निश्चित रूप से कर्ज में डूबा हुआ है, क्योंकि उसने अपने परिवार से पैसे उधार लिए व ठगों को 70 लाख रुपए दिए.

    जानिए पूरा मामला

    दरअसल, ठगों ने पीड़िता से कहा कि यह नया काम है. इसे शुरू करने के लिए आपको 63,000 रुपए जमा करने होंगे. पीड़िता का विश्वास जीतने के लिए उसने आयोग का दरवाजा खटखटाया. कमीशन मिलने के सातवें दिन पीड़िता ने 27 लाख रुपए भिजवा दिए. जब पीड़ित ने अपना पैसा निकालना चाहा तो, उसके पास संदेश आया कि वह 2 लाख रुपए से अधिक की निकासी करना चाहता है,

    इसलिए उसे कुल राशि का 50 प्रतिशत सुरक्षा जमा के रूप में जमा करना होगा. इसके बाद पीड़ित पुलिस के पास गई. शिकायत के अनुसार, पीड़ित पर भारी कर्ज हो गया था, क्योंकि उसने अपने घर, अपने पिता की संपत्ति और अपने व्यवसाय के लिए कर्ज लिया था. पीड़िता अब भी सदमे में है और फिलहाल वह सरकार से न्याय की गुहार लगा रहा है.