Punjab: गवर्नर के राष्ट्रपति शासन वाले पत्र पर CM का आया जवाब, बोले- आपको सत्ता की भूख, नहीं करूंगा समझौता

    सीएम भगवंत मान ने कहा कि रोजाना हंगामा हो रहा है. आज मैं इस संबंध में सभी विवरण साझा करूंगा। यह कोई नई बात नहीं है कि राज्यपाल पत्र लिखकर उसमें कोई आदेश या भाषा लिख देते हैं, जिससे पंजाबियों को अपमानित होना पड़ता है.

    Punjab: गवर्नर के राष्ट्रपति शासन वाले पत्र पर CM का आया जवाब, बोले- आपको सत्ता की भूख, नहीं करूंगा समझौता

    शुक्रवार को राज्यपाल बीएल पुरोहित ने सीएम भगवंत मान को पत्र लिखकर राष्ट्रपति को संविधान के अनुच्छेद 356 के तहत रिपोर्ट भेजने और कानूनी कार्रवाई शुरू करने की चेतावनी दी. इस पर पंजाब के सीएम भगवंत मान ने शनिवार को कहा है कि अगर राज्यपाल को लगता है कि उनके पत्र के बाद मैं सीएम की कुर्सी छिनने के डर से समझौता कर लूंगा, तो जान लें कि मैं कोई समझौता नहीं करूंगा.

    मान ने आगे कहा कि राज्यपाल के पत्र में उनकी सत्ता की भूख की झलक मिलती है. उन्हें आदेश देने की आदत है. ऊपर से पत्र भी लिखे जा रहे होंगे. राज्यपाल ने अभी-अभी हस्ताक्षर किये होंगे. बता दें कि साल 2022 में पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार बनने के बाद से राज्यपाल बीएल पुरोहित और मुख्यमंत्री भगवंत मान के बीच लगातार खींचतान चल रही है. राज्यपाल ने विभिन्न मुद्दों पर सीएम को छह से अधिक पत्र लिखे हैं.

    रोजाना  हो रहा हंगामा

    सीएम भगवंत मान ने कहा कि रोजाना हंगामा हो रहा है. आज मैं इस संबंध में सभी विवरण साझा करूंगा। यह कोई नई बात नहीं है कि राज्यपाल पत्र लिखकर उसमें कोई आदेश या भाषा लिख देते हैं, जिससे पंजाबियों को अपमानित होना पड़ता है। हम जवाब देते रहते हैं कि हम ठीक हो जायेंगे. ऊपर से ऐसे आदेश होंगे. पंजाब ही नहीं अन्य राज्य भी इस दुख से जूझ रहे हैं.

    सरकार गिराने की दी धमकी

    कल राज्यपाल ने पंजाब के शांतिप्रिय लोगों को धमकी दी कि मैं आप पर राष्ट्रपति शासन लगाऊंगा. मैं धारा 356 की सिफ़ारिश करूंगा और सरकार तोड़कर राज्यपाल शासन की सिफ़ारिश करूंगा. यह लड़ाई 16 मार्च से ही चल रही है. अब निचले स्तर से समझ कर वे हमला करने आये हैं. राज्यपाल सीधी धमकी दे रहे हैं. क्या पत्र का जवाब न देना राष्ट्रपति शासन का कारण बन सकता है?