PM मोदी ने इन मंत्रालयों पर कोई समझौता नहीं किया

    केंद्र में एक बार फिर एनडीए की मोदी सरकार का गठन हो गया है. रविवार शाम को शपथ ग्रहण के बाद सोमवार सुबह से अपने कहे के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 125 दिन के एजेंडे को लेकर एक्शन में आ चुके हैं. और इसी बीच मोदी सरकार के मंत्रियों के विभागों का बंटवारा हो गया और CCS यानी कैबिनेट कमिटी ऑन सिक्युरिटी में उन्हीं मंत्रियों का स्थान मिला है जो 2019 के सीसीएस में थे.

    Modi Cabinet 3.0

     

    नई दिल्ली: केंद्र में एक बार फिर एनडीए की मोदी सरकार का गठन हो गया है. रविवार शाम को शपथ ग्रहण के बाद सोमवार सुबह से अपने कहे के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 125 दिन के एजेंडे को लेकर एक्शन में आ चुके हैं... और इसी बीच मोदी सरकार के मंत्रियों के विभागों का बंटवारा हो गया और CCS यानी कैबिनेट कमिटी ऑन सिक्युरिटी में उन्हीं मंत्रियों का स्थान मिला है जो 2019 के सीसीएस में थे.

    बड़े मंत्रालयों में कोई बदलाव नहीं 

    राष्ट्रपति भवन में 9 जून को प्रधानमंत्री समेत 71 मंत्रियों ने शपथ लिया. इसके एक दिन बाद ही पीएम मोदी की अध्यक्षता में पहली कैबिनेट बैठक संपन्न हुई. इस मीटिंग में विभागों का बंटवारा किया गया. पार्टी ज्यादातार बड़े मंत्रालयों में अपने पुराने चेहरों पर ही गई. इसमें सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी बने. अमित शाह को गृह मंत्रालय, राजनाथ सिंह को रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी मिली. अश्विनी वैष्णव को रेलवे मंत्रालय की फिर से जिम्मेदारी दी गई. जेपी नड्डा को स्वास्थ्य मंत्री बनाया गया. मोदी कैबिनेट 3.0 में जीतन राम मांझी को MSME की, भूपेंद्र यादव को पर्यावरण मंत्रालय की जिम्मेदारी मिली. इसके अलावा किरेन रिजिजू को संसदीय कार्यमंत्री बनाया गया.

    30 कैबिनेट, 5 स्वतंत्र प्रभार और 26 राज्यमंत्रियों ने ली शपथ 

    बता दें शपथ ग्रहण के मात्र 23:30 घंटे बाद विभागों का बंटवारा हो गया. इससे पहले विभागों के बंटवारे में साल 2019 में 18 घंटे और 2014 में 15.30 घंटे लगे थे. कल (रविवार) पीएम मोदी के साथ 71 मंत्रियों ने शपथ ली थी. इनमें 30 कैबिनेट मिनिस्टर और 5 स्वतंत्र प्रभार मंत्री और 36 राज्य मंत्री हैं.

    मोदी कैबिनेट 3.0 में प्रमुख मंत्रालय 

    राजनाथ सिंह - रक्षा मंत्रालय

    अमित शाह - गृह मंत्रालय

    नितिन गडकरी - सड़क परिवहन मंत्रालय

    जेपी नड्डा - स्वास्थ्य मंत्रालय

    शिवराज सिंह चौहान - कृषि मंत्रालय एवं किसान ग्रामीण विकास मंत्रालय

    निर्मला सीतारमण - वित्त मंत्रालय

    सुब्रह्मण्यम जयशंकर - विदेश मंत्रालय

    मनोहर लाल - ऊर्जा मंत्रालय और शहरी विकास मंत्रालय

    हरदनहल्ली देवगौड़ा कुमारस्वामी - उद्योग मंत्रालय एवं स्किल डेवलपमेंट मंत्रालय

    पीयूष गोयल - वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय

    धर्मेंद्र प्रधान - शिक्षा मंत्रालय

    जीतन राम मांझी - एमएसएमई मंत्रालय

    राजीव रंजन सिंह (ललन सिंह) - पंचायती राज मंत्रालय

    सर्बानंद सोनोवाल - पोर्ट और शिपिंग का पुराना मंत्रालय

    डॉ वीरेंद्र कुमार - सामाजिक न्याय एवं कल्याण मंत्रालय

    राममोहन नायडू - नागरिक उड्डयन मंत्रालय

    प्रल्हाद जोशी - उपभोक्ता मंत्रालय

    जुएल ओरांव - जनजातीय कार्य मंत्रालय

    गिरिराज सिंह - कपड़ा मंत्रालय

    अश्वनी वैष्णव - सूचना प्रसारण मंत्रालय एवं रेल मंत्रालय

    ज्योतिरादित्य माधवराव सिंधिया - संचार मंत्रालय और उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय

    भूपेंद्र यादव - परियावर्ण मंत्रालय

    गजेन्द्र सिंह शेखावत - संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री

    अन्नपूर्णा देवी - महिला एवं बाल विकास मंत्रालय

    किरेन रिजिजू - संसदीय मामलों का मंत्रालय और सहकारी एवं अल्पसंख्यक

    हरदीप सिंह पुरी - पेट्रोलियम मंत्रालय

    डॉ मनसुख मंडाविया - श्रम एवं रोज़गार मंत्रालय और खेल एवं युवा मंत्रालय

    जी किशन रेड्डी - कोयला मंत्रालय और खनन मंत्रालय

    चिराग पासवान - खाद्य प्रसंस्कृत उद्योग मंत्रालय

    सीआर पाटील - जल शक्ति मंत्रालय

    राव इंद्रजीत सिंह - संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री