Jammu Kashmir की तीसरी सबसे लंबी मुठभेड़, 6 दिन के एनकाउंटर में 6 आतंकी ढेर, 2 की तलाश जारी

    सेना को अभी भी गादुल कोकेरनाग के जंगलों में दो और आतंकियों के छिपे होने की आशंका है. सबसे आधुनिक ड्रोन हेरॉन मार्क-2 से उनके ठिकानों की तलाश की जा रही है.

    Jammu Kashmir की तीसरी सबसे लंबी मुठभेड़, 6 दिन के एनकाउंटर में 6 आतंकी ढेर, 2 की तलाश जारी

    कश्मीर के अनंतनाग में सोमवार 18 सितंबर को छठे दिन भी मुठभेड़ जारी है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह इस इलाके में चल रही अब तक की सबसे लंबी मुठभेड़ है. पिछले 6 दिनों में तीन जगहों पर सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई. इसमें कर्नल, मेजर और डीएसपी समेत 5 जवान शहीद हो गए हैं, जबकि सेना ने अनंतनाग में 1, बारामूला में 3 और राजौरी में 2 यानी कुल 6 आतंकियों को मार गिराया है.

    तीसरी सबसे लंबी मुठभेड़

    सेना को अभी भी गादुल कोकेरनाग के जंगलों में दो और आतंकियों के छिपे होने की आशंका है. सबसे आधुनिक ड्रोन हेरॉन मार्क-2 से उनके ठिकानों की तलाश की जा रही है. इससे पहले 2020 में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच 18 घंटे तक मुठभेड़ हुई थी. वहीं, जम्मू-कश्मीर में यह तीसरी सबसे लंबे समय तक चलने वाली मुठभेड़ है। इससे पहले जम्मू के पुंछ जिले में भट्टी धार जंगल में चलाया गया ऑपरेशन 9 दिनों तक चला था. 31 दिसंबर 2008 को शुरू हुआ ऑपरेशन 9 जनवरी 2009 को खत्म हुआ। जम्मू में अब तक की सबसे लंबी मुठभेड़ 2021 में हुई। पुंछ जिले में डेरा की गली और भिंबर गली के बीच जंगलों में ऑपरेशन 19 दिनों तक चला।

    किश्तवाड़ में तीन संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार

    जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ जिले में सोमवार को हिज्बुल मुजाहिदीन आतंकवादी संगठन के तीन संदिग्ध आतंकवादियों को सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम (पीएसए) के तहत गिरफ्तार किया गया। उनकी पहचान तौसीफ-उल-नबी, जहूर-उल-हसन और रेयाज अहमद के रूप में की गई। तीनों को जेल भेज दिया गया है.

    वहीं, किश्तवाड़ जिले में ही पुलिस और सुरक्षा बलों ने संयुक्त चेकिंग अभियान के दौरान एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. उनकी कार में करीब 70 किलो वजन की 560 जिलेटिन की छड़ें मिलीं. किश्तवाड़ के एसएसपी खलील पोसवाल ने कहा कि वह अवैध रूप से सड़क निर्माण के लिए इस्तेमाल की जाने वाली विस्फोटक सामग्री ले जा रहा था.