Tarak Mehta शो की बावरी ने Asit Modi पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- 'कुत्ते की तरह करते हैं ट्रीट'


    TMKOC: जेनिफर मिस्त्री  ने हाल ही में 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा'के मेकर्स पर शोषण का आरोप लगाया था। कुछ दिनों बाद शो में 'बावरी' के किरदार में नजर आने वाली मोनिका भदौरिया ने भी मेकर असित कुमार मोदी और प्रोजेक्ट हेड सोहिल रमानी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. एक्ट्रेस ने असित और सोहिल पर कई गंभीर आरोप लगाए और यह भी कहा कि वे इतना टॉर्चर करते थे कि मुझे सुसाइड करने का मन करता था.

    'शो छोड़ने के बाद मेकर्स ने नहीं दिए पैसे'

    मोनिका ने 2013 से 2019 यानी छह साल तक हिट सिटकॉम शो में बावरी ढोंदूलाल कनपुरिया की भूमिका निभाई। हाल ही में दिए एक इंटरव्यू के दौरान एक्ट्रेस ने कहा कि शो छोड़ने के बाद मेकर्स ने उन्हें एक साल तक पैसे नहीं दिए. उन्होंने कहा था कि बाद में शो के कई अन्य सितारों गुरचरण सिंह, जेनिफर मिस्त्री, राज अनादकट और शैलेश लोढ़ा को भी ऐसा ही झेलना पड़ा.

    'काम करने से बेहतर है कि मैं आत्महत्या कर लूं'

    असित मोदी को 'बड़ा झूठा' बताते हुए मोनिका ने कहा था कि असित मोदी और सोहेल रमानी सेट पर कलाकारों को अपमानित करते हैं. उसने मीडिया रिपोटस में को बताया, "उन्होंने मुझे इस स्तर तक प्रताड़ित किया कि मुझे लगा कि यहां काम करने से बेहतर है कि मैं आत्महत्या कर लूं. उन्होंने मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया. वे चिल्लाते थे, गाली देते थे कुत्ते की तरह करते ट्रीट थे,और सोहिल कहते थे कि हम आपको भुगतान कर रहे हैं,

    'मां की मौत के बाद भी असित ने नहीं किया फोन'

    अभिनेत्री ने आगे उन दिनों को याद किया जब उनकी दिवंगत मां का कैंसर का इलाज चल रहा था. मोनिका ने कहा कि अगर उनके पास शूट करने के लिए कोई सीन नहीं था तो, भी उन्हें सुबह जल्दी सेट पर आने के लिए कहा गया. उन्होंने दावा किया कि असित मोदी ने अपनी मां के गुजर जाने के बाद भी एक भी कॉल नहीं की.

    'असित मोदी ने दी थी करियर बर्बाद करने की धमकी'

    मोनिका ने आगे आरोप लगाया कि मेकर्स ने उनका करियर बर्बाद करने की धमकी दी थी' एक्ट्रेस ने कहा, 'असित कुमार मोदी ने मुझे मुंबई में काम न करने की धमकी दी थी. मैं पहले से ही अपनी मां को खोने के मानसिक आघात से गुजर रही थी और यहां वह मुझे अपना करियर खोने की धमकी दे रहे थे. वास्तव में मेरे करियर पर असर पड़ा. काम के बाद संघर्ष करना पड़ा "

    एक्ट्रेस ने अपनी बात खत्म करते हुए जेनिफर के दावों का भी समर्थन किया और कहा कि तारक मेहता का उल्टा चश्मा एक "मर्दाना" जगह है. उसने कहा, "सेट पुरुष प्रधान है. वे महिला अभिनेताओं को प्रतीक्षा कराएंगे और पुरुष कलाकार पहले अपने दृश्यों को पूरा करेंगे और छोड़ देंगे. टीवी शो होने के बावजूद, महिला अभिनेताओं को पुरुष सितारों की तुलना में कम भुगतान किया जाता है."