महाराष्ट्र-छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर सी-60 फोर्स व नक्सलियों के बीच मुठभेड़, नामी नक्सली सहित तीन ढ़ेर

    सभी नक्सलियों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. वहीं, सारा एरिया सील कर सर्च जारी है. पहले नक्सलियों ने फोर्स पर गोलियां चलाई थी, जिसके बाद फोर्स ने जवाबी कार्रवाई की

    महाराष्ट्रा-छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर फोर्स और नक्सलियों के बीच रविवार को देर रात मुठभेड़ हो गई. मुठभेड़ में करीब तीन लोगों के मारे जाने की सूचना है. फिलहाल मामले में कोई अधिकारिक बयान सामने नहीं आया है. फोर्स को सूचना मिली थी कि उक्त जगह पर बड़ी संख्या में नक्सली मौजूद हैं.

    गुप्त सूचना के आधार पर फोर्स ने ट्रैप लगाकर तुरंत रश कर दिया. काफी देर तक चले एनकाउंटर में फोर्स ने बड़े कैडर के माओवादी बिटलू माड़वी को भी मार गिराया है. फोर्स इसे बड़ी कामयाब मान कर चल रही है. क्योंकि उसका हाथ कई अन्य घटनाओं में सभी सामने आ चुका है. जल्द मामले में अधिकारी जानकारी सांझा करेंगे. 

    C-60 फोर्स ने किया एनकाउंटर, पहले नक्सलियों ने की फायरिंग 

    मिली जानकारी के अनुसार रविवार को देर रात सी-60 फोर्स से जवान गश्त के लिए महाराष्ट्र, गढ़चिरौली जिले के भामरगढ़ तहसील के केढ़मारा के जंगल में गए थे. यह इलाका छत्तीसगढ़ व महाराष्ट्रा बार्डर पर है. जब जवान गश्त कर रहे थे तो उक्त नक्सलियों ने फायरिंग शुरु कर दी. जिसके बाद जवानों ने कवर लेकर नक्सलियों ने मुहंतोड़ जवाब देना शुरु किया. करीब एक घंटे तक चले एनकाउंटर में तीन नक्सलियों को मार गिराया गया. 


    बिटलू माड़वी गढ़चिरोली एरिया में था सक्रिए 

    जब पुलिस की जवाबी कार्यवाई नहीं रुकी तो उक्त नक्सली जान बचा कर मौके से फरार हो गए. जिसके बाद पूरा एरिया सील कर दिया गया और मामले के बारे में उच्च अधिकारियों को बताया गया. जिसके बाद एरिया सर्च के दौरान पुलिस ने मौके से करीब तीन नक्सलियों के शव बरामद किए. जिसमें से एक शव बिटलू माड़वी का था. बता दें कि अभी एरिया का सर्च जारी है, जिसके बाद आगे की जानकारी सामने आएगी. सभी नक्सलियों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.