आश्रम में 13 साल की बच्ची से हैवानियत, सेवादारों ने मुंह में डाला जलता कोयला

    पीड़िता के परिजनों ने बताया कि घटना 24 फरवरी की है। लेकिन इसकी शिकायत 28 फरवरी को दर्ज कराई गई है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पीड़िता रायपुर जिले के अभनपुर क्षेत्र की रहने वाली है

    आश्रम में 13 साल की बच्ची से हैवानियत, सेवादारों ने मुंह में डाला जलता कोयला

    Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक आश्रम में 13 साल की बच्ची को बेरहमी से पीटने के बाद उसके मुंह में जलता हुआ कोयला डाल दिया गया. इस घटना में लिप्त तीन सेवादारों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के बागबहरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत पतेरापाली गांव स्थित जय गुरुदेव मानस आश्रम में बालिका से मारपीट करने और उसके मुंह में कोयला ठूंसने के आरोप में पुलिस ने नरेश पटेल (28), भोजकुमार साहू (27) और राकेश दीवान (40) को गिरफ्तार कर लिया है,  पुलिस ने आश्रम संचालक रमेश सिंह ठाकुर को भी इस मामले में गिरफ्तार किया है।

    मानसिक रोग से पीड़ित थी बालिका

    जानकारी के मुताबिक, पीड़िता के परिजनों ने बताया कि घटना 24 फरवरी की है। लेकिन इसकी शिकायत 28 फरवरी को दर्ज कराई गई है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पीड़िता रायपुर जिले के अभनपुर क्षेत्र की रहने वाली है. मानसिक रोग से पीड़ित थी और 20 फरवरी को परिजन उसे भूत भगाने के इलाज के लिए आश्रम लाए थे. इसके बाद युवती का भाई उसे आश्रम में छोड़कर घर लौट आया।

    चढ़ावे को लेकर हुआ था विवाद

    पुलिस अधिकारियों ने बताया कि 24 फरवरी को आश्रम में भोग लगाने को लेकर विवाद हुआ था. इसके बाद तीन सेवादार (स्वयंसेवक) पटेल, साहू और दीवान ने लड़की को बुरी तरह पीटा और तीनों ने उसके मुंह में जलती लकड़ी डाल दी. इस घटना में वह गंभीर रूप से झुलस गई। पुलिस ने आगे बताया कि घटना की जानकारी जब पीड़िता के परिजनों को मिली तो वे आश्रम पहुंचे. आरोपियों ने पीड़िता के परिवार को मामले की शिकायत पुलिस से नहीं करने की धमकी दी थी। बावजूद इसके लड़की के परिजनों ने 28 फरवरी को शिकायत दर्ज कराई। अब पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है।